सुभाष चन्द्र बोस और आज़ाद हिन्द फ़ौज़

सुभाष चन्द्र बोस और आज़ाद हिन्द फ़ौज़

Be the first to review this product

Availability: In stock

Regular Price: Rs495.00

Special Price Rs391.00

Quick Overview

यह पुस्तक सुभाषचन्द्र बोस के जीवन की तमाम गुत्थियों एवं मनोभावों को उजागर करती हुई भारतीय स्वतंत्रता संघर्ष की कहानी कहती है । जीवन के प्रति आध्यात्मिक दृष्टिकोण से लेकर सामाजिक एवं राजनीतिक समीकरणों तक सुभाष सदैव वैज्ञानिक एवं तार्किक फलसफे के हामी रहे। समाजवाद के पक्षधर सुभाष का आइ. सी. एम. के लिए ब्रिटेन जाने से लेकर आज़ाद हिन्द फौज का नेतृत्व करने तक का एकमात्र सपना था - आज़ाद भारत। इसके लिए उन्होंने छोटी से छोटी सभी सुख-सुविधाओं का परित्याग किया। कठिन एवं चुनौती भरे रास्तों को उन्होंने अख्तियार किया। ग़रीबी और सेवा का व्रत लेते हुए मातृभूमि की सेवा करना अपना परम लक्ष्य बनाया । यह पुस्तक उन सभी ऐतिहासिक एवं प्रामाणिक साक्ष्यों को प्रस्तुत करती है जिनसे सुभाषचन्द्र बोस, नेताजी सुभाष बने ।
महात्मा गांधी ने सुभाष को 'देशभक्तों का देशभक्त' कहा जिसके पीछे गांधी का सुभाष की नेतृत्व क्षमता एवं देश के प्रति अटूट भावना का लोहा मानना रहा ।
आज़ाद हिन्द फ़ौज़ में सांप्रदायिक सद्भाव को प्रस्तुत करता उनका नारा आज देश का नारा बन चुका है - जय हिन्द ।
यह पुस्तक सुभाषचन्द्र बोस के जीवन के अनेक अनसुलझे पहलुओ को सुलझाती है । उनके विवाह एवं मृत्यु सम्बन्धी फैली तमाम भ्रांतियों को रेखांकित करते हुए असलियत प्रस्तुत करती है।
यह एक अनूठा प्रयास है । नेताजी सुभाषचन्द्र बोस पर वैज्ञानिक दृष्टिकोण एवं प्रमाणिकता को लेकर इस तरह की किसी भी पुस्तक का अभाव रहा है।निःसंदेह यह पुस्तक सुभाषचंद्र बोस के जीवन-दर्शन एवं संघर्ष को समझने में मदद करती है ।

Additional Information

Sub Title No
Author अशोक तिवारी
ISBN 10 Digit 8187471034
ISBN 13 Digit 9788187471035
Pages No
Binding Hardcover
Year of Publication 2002
Edition of Book First
Language Hindi
Illustrations No

Product Tags

Use spaces to separate tags. Use single quotes (') for phrases.